भारत के सदियों पुरातन धर्म से ही अत्यधिक खर्चीली एवं जटील रिती मानी जाती है दहेज प्रथा ।इसमें भारी सजावट, शानदार बहुमूल्य, उपहार तथा दूल्हे के परिवार को खुश करने के लिए लाखों रुपए दिए जाते हैं,  इसे ही दहेज प्रथा कहा जाता है, इस प्रकार की प्रथा वर्षों से चली आ रही है,  पहले…

भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम का नाम आप सभी ने अवश्य ही सुना होगा वह एक सच्चे भारतीय थे, और उन्होंने अपना जीवन  भारत के लोगो के लिए समर्पित कर दिया | उन्हें सभी लोग आज भी प्रेम करते हैं तथा उनका सम्मान करते हैं | उनका जन्म तमिलनाडु के रामेश्वरम में 15…

 रविवार हर सप्ताह विद्यार्थियों के लिए या सरकारी ,निजी सभी क्षेत्रों में कार्य करने वाले नौकरी पेशा लोगों के लिए  हों या घर में प्रतिदिन गृहणियों  के लिए जो घरेलू कामकाज में हमेशा व्यस्त रहती हैं I  उन सभी के लिए हर सप्ताह रविवार की  छुट्टी का शुभ संदेश  और खुशियां लेकर आता है और…

भारत देश में महान विभूतियों  सन्यासियों   और न जाने कितने महापुरुषों का जन्म हुआ है, जिन्होंने  हमेशा ऐतिहासिक गौरव के साथ -साथ  देश  का नाम गर्व  से ऊंचा किया है I  उन्हीं रत्नों में से एक रत्न थे रविंद्र नाथ टैगोर ,जिनका जन्म 7 मई 1861 को हुआ था इनके पिताजी का नाम देवेंद्र नाथ…

प्रत्येक मनुष्य के पास कोई ऐसी महत्वाकांक्षा या अभिलाषा होता है जिसे वह बचपन से करने का शौक रखता है I या यूं कहे कि उस सपने को जीना चाहता है जिसके लिए वह रोज उस कार्य या लक्ष्य  को  सोचते ही खुश हो जाता है उसे ही अभिलाषा कहते हैंI  बिना अभिलाषा के मनुष्य…

गंगा नदी पूरे विश्व के सबसे पवित्र और अध्यात्मिक नदियों में सर्वश्रेष्ठ माना जाता है I जिसे भारत में देवी देवताओं के रूप में पूज्नीय माना जाता है उन्हें देवी और माता का भी संज्ञा दिया गया हैI  गंगा नदी में स्नान करना पूरे विश्व में पवित्र आध्यात्मिकता के रूप में प्रचलित हैI   गंगा नदी…

यह कहना पूरी तरीके से उचित है कि आज का युग पूरी तरह से विज्ञान का युग है  जहां प्रत्येक घंटे और दिन कुछ न कुछ नई चीजें खोज  और अविष्कार होती रहती  हैI इसके  माध्यम से  हमेशा नयी तकनीकी यंत्र देखने को मिलती है जो आम आदमी के लिए पूरी तरह से नया होता…

आज के दौर में विज्ञापन हमारे देश के हर व्यापार और हर क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है I  अब ऐसा कहा जाता है कि अच्छी गुणवत्ता  और  उत्पाद के साथ -साथ एक अच्छे विज्ञापन जब तक नहीं करते तब तक आप अपनी व्यवसाय और  व्यापार में सफल नहीं हो सकते देश की जनता आपको…

पंडित जवाहरलाल नेहरू भारत के प्रथम प्रधानमंत्री थे जिन्होंने हमारे देश के करीब 15 वर्ष प्रधानमंत्री के पद पर रहकर देश की नि:स्वार्थ भाव से सेवा की हैI  जब उन्होंने प्रधानमंत्री की  कुर्सी पर आसन्न  हुए थे तो बिखरे भारत जो अभी हाल ही में न जाने कितने महापुरुषों के बलिदान के फलस्वरुप स्वतंत्र हुआ…

वैसे विवाह जिनमें लड़कियों की उम्र 18 वर्ष के कम हो और लड़के का 21 वर्ष से कम हो उनके संपन्न विवाह को बाल विवाह के श्रेणी में रखा जाता है I इस प्रकार के विवाह पूरे दुनिया में प्राचीन समय में प्रचलित थी परंतु भारत में तो 18वीं – 19वीं सदी में हमेशा बाल…